उलूक टाइम्स: अन्दाज बकवास-ए-उलूक का कुछ बदलना चाहता है

गुरुवार, 18 जून 2020

अन्दाज बकवास-ए-उलूक का कुछ बदलना चाहता है


वो जो सच में लिखना होता है 
खुद ही सहम कर पीछे चला जाता है 
कैसे लाये खयाल में किसी को कोई 
कोई और सामने से आ जाता है 
-----------
उस मदारी के लिये बहुत कुछ 
लिख रहें है लोग अपनी समझ से 
कुछ भी लिखे को उसपर लिखा समझ कर 
जमूरा उसका अपनी राय दे जाता है
---------
उसे भी कहाँ आती है शर्म किसी से 
हमाम में ही सबके साथ खिलखिलाता है 
लड़ता नहीं है किसी से कभी भी 
एक भूख से मरा बच्चा ला कर के दिखाता है
---------
शेर और शायरी अदब के लोगों के फसाने होते हैं 
सुना है यारों से 
किसी की आदत में बस 
बकवास में बातों को उलझाना ही रह जाता है
----------
मुद्दत से इंतजार रहता है 
शायद बदल जायेगी फितरत हौले हौले किसी की 
तमन्ना के साथ हौले हौले उसी फितरत को अपनी
धार दिये जाता है
‌‌‌‌‌-------
कुछ नहीं बदलेगा 
कहना ही ठीक नहीं है जमाने से इस समय
जमाना खुद अपने हिसाब से 
अब चलना ही कहाँ चाहता है
--------- 
किसी के चेहरे के समय के लिखे निशानों पर 
नजर रखता है 
अपने किये सारे खून जनहित के सवालों से 
दबाना चाहता है
--------- 

किसी के लिखने और किसी को पढ़ने के बीच में 
बहुत कुछ किसी का नहीं है 
कोई लिखता चलता है मीलों 
किसी को ठहर कर पढ़ने में मजा आता है
---------- 
किसी के लिखे पर कुछ कहना चाहे कोई 
सारे खाली छपने वालों को छोड़ कर 
किसलिये डरता है कोई इतना 
लिखे पर कह दिये को 
घर ले जा कर पढ़ना चाहता है
‌‌‌‌--------- 
कुछ भी लिख देने की आदत रोज रोज 
कभी भी ठीक नहीं होती है ‘उलूक’ 
किसलिये अपना लिख लिखा कर 
कहीं और जा कर 
फिर से दिखना चाहता है।
----- 

चित्र साभार: 

29 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी लिखी रचना ब्लॉग "पांच लिंकों का आनन्द" शुक्रवार 19 जून 2020 को साझा की गयी है......... पाँच लिंकों का आनन्द पर आप भी आइएगा....धन्यवाद!

    जवाब देंहटाएं
  2. बदलना संसार का अटल नियम है | अगर उलूक को भी इच्छा हुई मज़मून बदलने की , शायद कुछ और बेहतर लिखा जाएगा |ज्यादा चिंतन , थोड़ा लेखन ही प्रबुद्धता की निशानी है | हमेशा की तरह शानदार !!!!!!!सादर --

    जवाब देंहटाएं
  3. वो जो
    सच में लिखना होता है
    खुद ही सहम कर पीछे चला जाता है

    कैसे लाये
    खयाल में किसी को कोई
    कोई और सामने से आ जाता है

    सुन्दर अभिव्यक्ति.....उपरोक्त पंक्तियाँ कईयों के मन के भाव बयान कर देती हैं.....

    जवाब देंहटाएं
  4. जी नमस्ते ,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल रविवार(२० -०६-२०२०) को 'ख्वाहिशो को रास्ता दूँ' (चर्चा अंक-३७३८) पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है
    --
    अनीता सैनी

    जवाब देंहटाएं
  5. "कुछ नहीं बदलेगा
    कहना ही ठीक नहीं है
    जमाने से इस समय"
    --
    सार्थक प्रस्तुति।

    जवाब देंहटाएं
  6. अद्भुत लेख आपके नए लेख पढ़ने के लिए हमेशा उत्साहित रहते हैं

    जवाब देंहटाएं
  7. उलूक जैसा अंदाज़ है कहीं ? लोग इसीलिए जलते हैं ...
    बधाई उलूक को !!

    जवाब देंहटाएं

  8. जमूरा उसका
    अपनी
    राय दे जाता है
    मजमा जमा रखा है
    बहुत बढ़िया सर

    जवाब देंहटाएं

  9. कुछ नहीं बदलेगा

    कहना ही
    ठीक नहीं है
    जमाने से इस समय

    जमाना
    खुद
    अपने हिसाब से अब

    चलना ही
    कहाँ चाहता है
    वाह लाजवाब बधाई हो आपको

    जवाब देंहटाएं
  10. वाह बहुत ही खूब
    कोई लिख़ता चलता है मीलों
    कोई~~~~
    वाह
    खूब !!

    जवाब देंहटाएं
  11. किसी
    के चेहरे के
    समय के
    लिखे
    निशानों पर
    नजर रखता है
    अपने
    किये सारे खून
    जनहित
    के
    सवालों से
    दबाना चाहता है
    वाह!!!
    खरी खरी...
    बहुत लाजवाब।

    जवाब देंहटाएं
  12. वो जो
    सच में
    लिखना होता है


    खुद ही
    सहम कर
    पीछे चला जाता है

    सत्य वचन ,स्वयं मैंने ही सोउ बार अपने हाथ रोके हैं जो लिखने का मन होता है

    हम सब अपनी सर्कस में खुद ही जमूरे है , नाचना हम सब की मज़बूरी
    मन में आये ख्यालों को बेबाकी से परोस दिया अपने, कोई शहद मीठा लपेटे

    शुभकामनाएं

    जवाब देंहटाएं
  13. यही समस्या बी है ... जो खुद को लिखना होता है वू पीछे हो जाता है ... दुसरे का चाहा लिखा जाता है ... पर आज का सच तो यही है ... लाजवाब ...

    जवाब देंहटाएं
  14. वाह क्या सुंदर लिखावट है सुंदर मैं अभी इस ब्लॉग को Bookmark कर रहा हूँ ,ताकि आगे भी आपकी कविता पढता रहूँ ,धन्यवाद आपका !!
    Appsguruji (आप सभी के लिए बेहतरीन आर्टिकल संग्रह) Navin Bhardwaj

    जवाब देंहटाएं
  15. आपसे निवेदन है मेरे विजिट पर आए मुझे दिशा निर्देश करेhttps://srikrishna444.blogspot.com/2020/07/blog-post.html

    जवाब देंहटाएं
  16. Lyrics Hindi Songs

    Welcome friends in Lyrics Hindi Songs .in All Bollywood songs and Indian movie songs lyrics are available here whether the songs are old or latest.
    And also friends you get lyrics of different languages song as like Punjabi, Tamil, Telugu and Haryanvi etc.
    Lyrics Hindi Songs


    Lyrics Hindi Songs

    जवाब देंहटाएं
  17. University of Perpetual Help System Dalta Top Medical College in Philippines
    University of Perpetual Help System Dalta (UPHSD), is a co-education Institution of higher learning located in Las Pinas City, Metro Manila, Philippines. founded in 1975 by Dr. (Brigadier) Antonio Tamayo, Dr. Daisy Tamayo, and Ernesto Crisostomo as Perpetual Help College of Rizal (PHCR). Las Pinas near Metro Manila is the main campus. It has nine campuses offering over 70 courses in 20 colleges.

    UV Gullas College of Medicine is one of Top Medical College in Philippines in Cebu city. International students have the opportunity to study medicine in the Philippines at an affordable cost and at world-class universities. The college has successful alumni who have achieved well in the fields of law, business, politics, academe, medicine, sports, and other endeavors. At the University of the Visayas, we prepare students for global competition.

    जवाब देंहटाएं
  18. Thank you provide us hindi quotes. Also Nayastatus.com blog presenting Hindi Quotes . That helps you to share emotions with your friends, gf, bf, husband and wife.

    जवाब देंहटाएं