उलूक टाइम्स: एक जनवरी

चिट्ठा अनुसरणकर्ता

एक जनवरी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
एक जनवरी लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शनिवार, 27 दिसंबर 2014

इक्तीस दिसम्बर इस साल नहीं आ पाये सरकार के इस फरमान का मान रखें

ख्याल रखें
नया साल
इस साल
मनाने की
सोच कर
अपने लिये
पैदा नहीं करें
कोई बबाल
तुगलक और
उसके फरमानों
की फेहरिस्त
लिख लिखा कर
कहीं पैंट की जेब
में सँभाल रखें
इक्तीस दिसम्बर
को पूजा करें
हनुमान जी
का ध्यान धरें
राम नामी
माला ओढ़ कर
तुलसी माला के
108 दाने
दूध में धो कर
धूप में सुखाकर
जनता को कुछ
नया कर दिखाने
का मन ही
मन ठान रखें
बीमार नहीं होना है
छुट्टी नहीं लेनी है
पीने पिलाने का
कार्यक्रम करें
कोई रोक नहीं है
परदा लगा
कर एक मोटा
इक्तीस को
छोड़ कर
किसी और दिन
अपने घर से
कहीं दूर किसी
और की गली में
करते समय
ध्यान से अपने
चेहरे पर एक
रुमाल रखें
जनता के लिये
जनता के द्वारा
जनता के बीच
जनता के साथ
तुगलक के
नये वर्ष की
तुगलकी
एक जनवरी
साल के किसी
तीसरे या चौथे
महीने से शुरु
करते हुऐ
उम्मीदों को
खरीदने बेचने
की एक
नई दुकान की
नई पहल के
नये फरमान
का कुछ
तो मान रखें ।

चित्र साभार: www.canstockphoto.com